33 C
Lucknow
August 11, 2020
Janta ka Safar
देश दुनिया बड़ी खबर

अमेरिका की अर्थव्यवस्था ध्वस्त, गिरावट का रिकार्ड टूटा ​

लॉस एंजेल्स। अमेरिका में कोरोना संक्रमण से इकानमी मौजूदा वर्ष के दूसरे क्वार्टर में औंधे मुंह गिरकर 32.09 प्रतिशत सिकुड़ गई है। ​​ब्यूरो ऑफ इकानामिक एनालिसिस की मानें तो अमेरिकी इकानमी की ख़स्ता स्थिति में यह अभी तक का रिकार्ड  है। कहा जा रहा है कि इतनी बुरी स्थिति तो पहले और दूसरे विश्व युद्ध के बाद भी नहीं हुई थी।

कोरोना संक्रमण की दस्तक के समय अमेरिकी इकानमी की स्थिति जीडीपी के मद्देनज़र ख़राब हालत में थी। जैसे ही दूसरी तिमाही की शुरुआत हुई, लाखों लोगों के रोज़गार चले गए, लोगों के ख़र्च करने की शक्ति क्षीण हो गई, निर्यात सिकुड़ने लगा, कारोबार ठप हो गया, सेंट्रल बैंक और कांग्रेस ने खरबों डॉलर के आर्थिक राहत सहायता देकर इकानमी को पटरी पर लाने की कोशिश की। इस मद में तीन खरब डॉलर वितरित किए गए। इसके बावजूद कोरोना संक्रमण पर अंकुश नहीं लग पाने और लॉकडाउन के जारी रहने के कारण स्थितियां बद से बदतर होती गईं।

आज स्थिति यह है कि तीन करोड़ लोग बेरोज़गार हैं। ये अभी तक केंद्र और राज्य सरकारों से बेरोज़गारी भत्ते पर जीवनयापन कर रहे थे, वह भी अब ख़त्म होने के कगार पर है। अभी तक इस 600 डॉलर प्रति सप्ताह के भत्ते पर रिपब्लिकन और डेमोक्रेट में सहमति नहीं होने से स्थिति उलझी हुई है। डेमोक्रेट इस आर्थिक मदद को जनवरी तक बढ़ाने के लिए प्रयत्नशील है तो रिपब्लिकन इस पर रज़ामंद नहीं है। इस बेरोज़गारी का समाज के निम्न आय वर्ग के लोगों पर पड़ा है, जो मूलत: अफ़्रीकी अमेरिकी और लेटीनो हैं।

Related posts

10 हजार से कम में खरीदें ये लेटेस्ट फोन, जानिए क्या है फीचर्स

admin

भाजपा ज्वाइन करने के बाद सिंधिया के खिलाफ फिर खुला 2018 में बंद हुआ केस

admin

BCCI के अध्यक्ष का पद संभालेंगे सौरव गांगुली, सुप्रीम कोर्ट का निर्देश- COA को होगा हटना

admin

Leave a Comment