26 C
Lucknow
September 17, 2021
Janta ka Safar
उत्तर प्रदेश प्रमुख खबरें बड़ी खबर

स्कूल खोलने को बच्चों के टीकाकरण की शर्त दुनिया में कहीं मान्य नहीं

नई दिल्ली। नीति आयोग के सदस्य डॉ वी के पॉल ने गुरुवार को कहा कि स्कूलों को खोलने के लिए बच्चों के टीकाकरण की अनिवार्यता सही नहीं है। ऐसी शर्त विश्व में कहीं भी मान्य नहीं हैं। इसे कोई वैज्ञानिक और संक्रामक बीमारी की रोकथाम की संस्था भी स्वीकार नहीं करती। अलबत्ता स्कूल के सभी शिक्षकों और कर्मचारियों का टीकाकरण किया जाना चाहिए।

वैक्सीन के सवाल पर डॉ. पॉल ने कहा कि कुछ देशों ने बच्चों के लिए टीके को स्वीकृति दी है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी अभी तक इस संबंध में कोई स्पष्ट निर्देश नहीं दिये हैं। देश में जायडस कंपनी द्वारा तैयार की गई बच्चों की वैक्सीन को मंजूरी मिल गई है, लेकिन अभी सरकार इसके इस्तेमाल पर चर्चा कर रही है। इसके लिए गठित विशेषज्ञ कमेटी ही निर्णय लेगी।

प्रेस वार्ता में डॉ पॉल ने कहा कि देश में 18 साल के ऊपर के 58 प्रतिशत व्यस्कों को टीके की पहली खुराक दी जा चुकी है। यह 100 प्रतिशत तक होनी चाहिए। देश में कोई भी टीकाकरण से छूटना नहीं चाहिए और इसकी गति को बढ़ाना चाहिए, ताकि हर्ड इम्युनिटी विकसित की जा सके।

नेजल वैक्सीन के पहले चरण के नतीजे आशाजनक

डॉ. वीके पॉल ने बताया कि देश में भारत बायोटेक के नेजल वैक्सीन के पहले चरण का ट्रायल पूरा हो चुका है। इसके नतीजे काफी आशाजनक हैं। दूसरे और तीसरे चरण का ट्रायल अभी चल रहा है। इसके नतीजों का इंतजार अभी करना होगा। नेजल वैक्सीन शरीर में वायरस के प्रवेश को रोकता है।

Related posts

हाथरस का मास्टरमाइंड रऊफ तिरुवंतपुरम एयरपोर्ट से गिरफ्तार  

admin

दिल्ली में भड़की हिंसा से यूपी में भी अलर्ट, कई जिलों में धारा 144 लागू

admin

अजीत पवार को लेकर फिर मचा घमासान, उपमुख्यमंत्री बनाने की हो रही मांग

jantakasafar

Leave a Comment