38 C
Lucknow
April 6, 2021
Janta ka Safar
अपराध उत्तर प्रदेश

कानपुर में डबल मर्डर : रंजिश में गोली मारकर दोस्त समेत पुताई ठेकेदार की हत्या

कानपुर । प्रधानी चुनाव नजदीक आते आपराधिक वारदातें सामने आने लगी हैं। कानपुर जनपद में शुक्रवार की देर रात ऐसी घटना देखने को मिली। यहां नवाबगंज थाना इलाके में दो गुटों में चली आ रही रंजिश के चलते डबल मर्डर की घटना अंजाम दे दी गई। घात लगाए एक गुट ने दूसरे गुट पर धारदार हथियारों व गोली मारकर ठेकेदार और उसके ड्राइवर की निर्मम हत्या कर दी। डबल मर्डर की घटना से इलाके में सनसनी फैल गई। मौके पर डीआईजी समेत सर्किल का फोर्स हत्यारों की धरपकड़ के लिए काम कांबिंग जुट गया है। 

नवाबगंज थाना क्षेत्र स्थित ऊजियारी पुरवा में रहने वाले राजकुमार पुताई ठेकेदार शुक्रवार की देर रात अपने कार चालक दोस्त रवि के साथ मोहल्ले में बैठा था। तभी पुरानी रंजिश की खुन्नस में घात लगा कर आए शिवम निषाद के साथ आकाश, विकास और विशाल ने उन्हें घेर लिया और पुताई ठेकेदार व उसके दोस्त पर धारदार हथियारों व अवैध असलहे से हमला बोल दिया। हमलावरों के दिमाग में रंजिश की खुन्नस इस कदर थी कि जब तक राजकुमार और रवि मौत नहीं हो गई तब तक गोली मारने के बाद चापड़ और चाकू से उनके शरीर पर दर्जनों वार करते रहें। वारदात को अंजाम देने के बाद हमलावर मौके से भाग निकले। सनसनीखेज डबल मर्डर की घटना से इलाके में दहशत फैल गई। 

सूचना पर नवाबगंज समेत स्वरूप नगर व कर्नलगंज सर्किल का पुलिस बल मौके पर पहुंच गया। डबल मर्डर की सूचना मिलते ही डीआईजी डॉ. प्रीतिंदर सिंह व एसपी पश्चिम डॉ. अनिल कुमार फील्ड यूनिट के साथ मौके पर पहुंचे और शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम भेजते हुए पूछताछ के आधार पर सामने आए हत्यारों की तलाश के लिए घनी आबादी वाले कटरी व गंगा बैराज से सटे इलाके में सर्च लाइटों के बीच कांबिंग शुरू कर दी। 

पुलिस अधीक्षक पश्चिम डॉ. अनिल कुमार ने बताया कि हमलावर व मृतक युवकों के बीच पूर्व में रंजिश चल रही थी। दोनों ही पक्ष एक ही मोहल्ले के रहने वाले हैं। घटना को अंजाम देने वाले आरोपियों की तलाश में पुलिस की टीमें लगा दी गई हैं। जल्द ही सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। 

बताते चले कि, घटना को नाम देने वाले बसपा के पूर्व विधानसभा प्रत्याशी दीपू निषाद के करीबी बताए जा रहे हैं। सूत्रों की माने तो हमलावरों व मृतक ठेकेदार राजकुमार के बीच कुछ दिनों पूर्व विवाद भी हुआ था। यह विवाद नवाबगंज थाने तक भी पहुंचा था, लेकिन इस मामले में दोनों पक्षों से कई लोगों को हिरासत में लेने के बाद पुलिस ने कार्रवाई किए बिना छोड़ दिया था। जिसके चलते ही शुक्रवार की रात डबल मर्डर की घटना के रूप में यह रंजिश सामने देखने को मिली है।

Related posts

तृणमूल कार्यकर्ता को उतारा गया मौत के घाट, आरोप भाजपा पर

admin

‘डीएम साहब नहीं सुुनते हमारी बात, सीएम योगी बोले-मैं आता हूं’ डीएम ने थमाया नोटिस – ​सुने ऑडियो ​

admin

गिरफ्त में भ्रस्टाचार का ‘बड़ा बाबू’ – ​वीडियो ​

admin

Leave a Comment