31 C
Lucknow
April 6, 2021
Janta ka Safar
प्रमुख खबरें बिज़नेस

निगेटिव से पॉज़ीटिव में आई देश की अर्थव्यवस्था, 0.4 % पर पहुंची जीडीपी

नई दिल्ली । कोरोना काल के दौरान प्रभावित हुई देश की अर्थव्यवस्था को लेकर अब अच्छी खबरें मिलने लगी हैं। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक अक्‍टूबर-दिसंबर की तिमाही में भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था की वृद्धि दर 0.4 प्रतिशत रही है। साथ ही यह भी अनुमान लगाया गया है कि वित्‍तवर्ष 2020-21 में भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था में आठ प्रतिशत की गिरावट रहेगी।

राष्‍ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एसएसओ) की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक लगातार दो तिमाहियों में नकारात्‍मक रहने के बाद भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था तीसरी तिमाही में सकारात्‍मक हो गई। चालू वित्त वर्ष की दिसंबर में समाप्त तिमाही के दौरान भारत की जीडीपी सकारात्मक होकर 0.4 प्रतिशत पर पहुंच गई है। इससे पहले की दो तिमाहियों के दौरान कोरोना वायरस महामारी के चलते इसमें बड़ी गिरावट दर्ज की गई थी। 

एनएसओ के राष्ट्रीय लेखा के दूसरे अग्रिम अनुमान में 2020-21 में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में 8 प्रतिशत की गिरावट का अनुमान जताया गया है। कोरोना वायरस महामारी और उसकी रोकथाम के लिए लगाए गए लॉकडाउन के कारण चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में अर्थव्यवस्था में 24.4 प्रतिशत की गिरावट आई थी। वहीं दूसरी तिमाही जुलाई-सितंबर में जीडीपी में 7.3 प्रतिशत की गिरावट आई थी। इस  साल के जीडीपी के आंकड़ों में जनवरी में कारोबारी गतिविधियों में रिकवरी दर्ज की गई है। सेवा सेक्टर लगातार चौथे महीने ऊपर चढ़ा है। निर्यात और फैक्टरी की गतिविधियों में भी तेजी रही है।

उल्लेखनीय है कि 2019-20 की समान तिमाही में भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था की वृद्धि दर 3.3 प्रतिशत थी। वहीं,  रिजर्व बैंक ने वित्त वर्ष 2022-23 में देश की अर्थव्यवस्था में 10.5 फीसदी की वृद्धि का अनुमान लगाया है। जबकि, इसी समय के दौरान अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) का अनुमान  11 पर्सेंट की वृद्धि का है।

Related posts

IOC पर बढ़ रहा दबाव, ओलंपिक स्थगित करने पर कर रही विचार

admin

आगरा में क्वारंटाइन में रखे जमाती मांग रहे हैं भैंसे की बिरयानी डॉक्टर परेशान

admin

सरकार की ‘सुनियोजित लड़ाई’ से देश अचंभित – राहुल गांधी 

admin

Leave a Comment